साइंस एवं टेक्नोलोजी

Google Meet ने लॉन्च किये कई नये फीचर्स ! जाने क्या है ख़ास

नई दिल्‍ली. गूगल ने एजुकेशन सेक्‍टर के यूजर्स के लिए गूगल मीट में कई बदलाव किए हैं. नए फीचर्स में स्‍टूडेंट्स की उपस्थिति, सवाल-जवाब और पोल जैसे कई विकल्प दिए गए हैं. यूजर्स को अक्‍टूबर 2020 के आखिर में इस नए फीचर की सुविधाएं मिलनी शुरू हो जाएंगी. वहीं, अब गूगल मीट में नॉइस कैंसिलेशन का फीचर भी मिल रहा है. ये फीचर पिछले सप्‍ताह ही जुड़ा है. इससे गैर-जरूरी आवाजें कम होंगी.

स्‍टूडेंट्स को मिलेगा पसंदीदा टॉपिक पर वोटिंग का ऑप्‍शन

गूगल मीट में पोल के इस्‍तेमाल से टीचर्स को स्‍टूडेंट्स की जांच में मदद मिलेगी. इससे पता चल पाएगा कि स्टूडेंट्स कहीं किसी क्लासवर्क में पीछे तो नहीं रह रहे हैं. ऑनलाइन क्लास में अपने पसंद के टॉपिक पर स्टूडेंट्स को वोटिंग का ऑप्शन भी गूगल मीट पर मिलेगा. इससे प्राथमिकता वाले टॉपिक पर भी वोट किया जा सकेगा. गूगल मीट के ग्रुप प्रोडक्ट मैनेजर समीर प्रधान ने कहा कि पोल से क्लासेस में माहौल मजेदार हो सकता है. इस दौरान डिस्कशन और डिबेट की मदद से फन भी हो सकता है. इसके अलावा सेशन का फ्लो तोड़े बिना स्टूडेंट्स क्लास के दौरान सवाल पूछ पाएंगे.

ब्रेकआउट रूम के जरिये ग्रुप्‍स में बांटे जा सकेंगे स्‍टूडेंट्स

सवाल पूछने के दौरान टीचर्स के पास इसे छुपाने, डिसेबल या इनेबल करने का विकल्प मौजूद रहेगा. सवाल-जवाब के फीचर के जल्द ही आने की बात गूगल ने कही है, लेकिन इसके लिए कोई दिन नहीं बताया गया है. इस साल के आखिर तक गूगल मीट में व्‍हाइट बोर्ड और जैमबोड की सुविधा भी देखने को मिलेगी. इससे प्रेजेंट होने की अनुमति देने का अधिकार मिलेगा. ब्रेकआउट रूम के जरिये टीचर्स अब स्टूडेंट्स को छोटे-छोटे ग्रुप्स में बांट सकते हैं. अगले कुछ महीनों में गूगल मीट पर कंट्रोल जोड़ दिया जाएगा. टीचर का ध्यान आकर्षित करने के लिए प्रतिभागियों को मदद के लिए पूछने का विकल्प इसमें रहेगा. G Suite Enterprise कस्टमर्स के लिए ब्रेकआउट का विकल्प शुरू हो गया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close