राष्ट्रीय

दिल्ली में वैक्सीन पर तकरार: सिसोदिया का आरोप, केंद्र सरकार रोक रही है Covaxin की सप्लाई, बंद हुए 100 सेंटर

दिल्ली सरकार और केंद्र सरकार के बीच तनातनी होना कोई नयी बात नहीं है। कोरोना ने जिस तरह से दिल्ली में विकराल रूप धारण किया है। उसका जिम्मेदार राज्य सरकार केंद्र सरकार को मान रही है और लगातार ऑक्सीजन न देने का आरोप लगा रही है। मनीष सिसोदिया ने दिल्ली में वैक्सीनेशन की प्रक्रिया को लेकर भी बयान दिया है।
दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा ‘कोवैक्सीन’ का निर्माण करने वालों ने हमें स्पष्ट रूप से कहा है कि वे हमें और खुराक नहीं दे सकते। ‘कोवैक्सीन’ का निर्माण करने वालों ने हमें लिखा है कि वे संबंधित सरकारी अधिकारियों के निर्देशानुसार आपूर्ति कर रहे हैं । उन्होंने कहा ‘कोवैक्सीन’ का निर्माण करने वाली कम्पनी का पत्र स्पष्ट करता है कि केन्द्र सरकार ही यह फैसला करती है कि किस राज्य को टीके की कितनी खुराक मिलेगी।
हमने 17 स्कूलों में उन 100 केन्द्रों को बंद कर दिया है, जहां ‘कोवैक्सीन’ टीका लगाया जा रहा था । हम केन्द्र से अनुरोध करते हैं कि स्थिति की गंभीरता समझे, टीकों का निर्यात बंद करे और टीके का ‘फॉर्मूला’ अन्य कम्पनियों के साथ भी साझा करे। हम केन्द्र से आग्रह करते हैं कि भारत में अंतरराष्ट्रीय बाजार में मौजूद अन्य टीकों के इस्तेमाल को मंजूरी दे, राज्यों को तीन महीने के अंदर सभी को टीके लगाने का निर्देश दें।

Related Articles

Close